धर्म, दर्शन, कला, इतिहास, गणित, विज्ञान और तकनीक

प्रस्तुत तालिका 'आग से अंतरिक्ष तक : मानव-जाति की वैज्ञानिक पहुँच' पुस्तक का संक्षिप्त रूप है जिसका उद्देश्य केवल विषयों या शास्त्रों की आपसी भिन्नता को सांकेतिक रूप में दर्शाना है; न कि विषयों या शास्त्रों को पूर्णतः परिभाषित करना है।

विषय स्वरूप सम्बन्ध विशेषता या प्रकृति प्रमाण
धर्म पद्धति मूर्त + अमूर्त व्यक्ति या क्षेत्र विशेष की धारणा और स्थिति अनुरूप उनका निष्पादन अनुभव या उद्देशात्मक
दर्शन विधियुक्त (सैद्धांतिक) मूर्त + अमूर्त दृष्टिकोण और समीक्षाओं के रूप में केवल तार्किक होने से दर्शन का अवसान (expire) नहीं होता है प्रत्यक्ष, अनुमान, उपमान, शब्द, सम्भावना, अर्थापत्ति और अनुपलब्धि या अभाव
कला अनुकरण + अभ्यास मूर्त + अमूर्त नक़ल या दोहराव की मानवीय प्रवृत्ति कला में सत्य और प्रमाण दोनों का अभाव होता है
इतिहास विधियुक्त (सैद्धांतिक और व्यावहारिक) मूर्त जगत किसी विशेष के बारे में न्याय संगत समझ ऐतिहासिक (पुरातात्विक और साहित्यिक)
गणित विधियुक्त (सैद्धांतिक) + पद्धति अमूर्त जगत शाश्वत परंतु केवल एकीकरण संभव है अपरिभाषिक पद
विज्ञान विधियुक्त (सैद्धांतिक और व्यावहारिक) + पद्धति मूर्त जगत संशोधन, विस्तार और एकीकरण द्वारा अद्यतित विधियुक्त
तकनीक विधियुक्त (व्यावहारिक) विज्ञान (सैद्धांतिक सम्भावना) + कला (मूर्त रूप) आवश्यकतानुसार समाधानों की व्यावहारिक प्राप्ति क्रियाशीलता

सैद्धांतिक विधियाँ : मुख्य रूप से आगमन और निगमन;
व्यावहारिक विधियाँ : मुख्य रूप से प्रेक्षण, प्रयोग और परीक्षण;
पद्धति : उपलब्धियों और निष्कर्षों की संचय प्रकृति

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें